BDO Officer Kaise Bane

BDO अधिकारी Kaise बनें?

Posted on

आज इस article में हम चर्चा करेंगे कि BDO अधिकारी कैसे बनें? सरकारी नौकरी करना हर युवा की पहली पसंद होती है. दोस्तों अगर आप high class job करना चाहते हैं. इसलिए आपको उसी के अनुसार पढ़ाई करनी होगी. ऐसा ही एक पद है BDO. BDO का full form Block Development Officer होता है जो block के विकास के लिए काम करता है. एक जिले में कई block होते हैं और सभी block में एक-एक BDO होते हैं. दोस्तों इस post को खोजना बहुत मुश्किल है. लेकिन जो छात्र इस पद को पाने के लिए दृढ़ हैं. उनके लिए इसे पढ़ना बहुत आसान हो जाता है. Block Development Officer बनना चाहते हैं तो आपको उसी के अनुसार पढ़ाई करनी होगी. क्योंकि बहुत सारे छात्र मेहनत से पढ़ते हैं, लेकिन कुछ ही छात्र सफल होते हैं.

BDO officer बनने के लिए कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है जैसे आयु सीमा, योग्यता और इसके लिए क्या तैयारी करे. Form भरने के लिए कितने प्रतिशत की आवश्यकता है? परीक्षा कितने चरणों में होती है? एक syllabus क्या है? आप form कब भर सकते हैं? इसमें कितनी salary मिलती है? इसके लिए क्या रणनीति होनी चाहिए?

BDO अधिकारी क्या है?

राज्य सरकार के किसी भी Project BDO का काम लोगों तक पहुंचना है. लोगों को उन परियोजनाओं के मुनाफे के बारे में बताना. और उन्हें जागरूक करना होगा. वैसे, जब सरकार हमारे देश में किसी भी विकास परियोजना को लागू करती है. ऐसा ही इन अधिकारियों का काम है. उन्हें इन परियोजनाओं को अपने क्षेत्र में अच्छी तरह से लागू करना चाहिए. उदाहरण के लिए, यदि आप उस क्षेत्र के अंतर्गत सड़क बनाना चाहते हैं या कोई परियोजना शुरू करना चाहते हैं, तो आपको BDO से अनुमति लेनी होगी.

दोस्तो जिस तरह से IAS officer बनता है. इसी तरह BDO भी बनते हैं. UPSC IAS की परीक्षा आयोजित करता है. वही BDO के लिए state level PSC प्रदान करता है. जैसे BPSC (बिहार लोक सेवा आयोग), UPPSC (उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग), पश्चिम बंगाल लोक सेवा आयोग, मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग. इस तरह देश भर के राज्य अपने राज्य PCS परीक्षा आयोजित करते हैं.

BDO अधिकारी के लिए Eligibility Criteria

योग्यता

दोस्तों इस post का form भरने के लिए आपका किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना जरूरी है. इस form को आप graduation के आधार पर ही apply कर सकते हैं. ध्यान रहे कि diploma वाले छात्र form बिल्कुल भी नहीं भर सकते हैं. अगर आप graduation pass या last semester या last year के student हैं. यानी आप सामने आ रहे हैं. तो आप form apply  कर सकते हैं. Graduation में सिर्फ passing marks होने चाहिए.

अगर आपने किसी भी stream से graduation किया है. आप form apply कर सकते हैं. जैसे BA, BSc, B.com, BBA, Engineering, Medical, Hotel Management, etc. यहां ध्यान रखें कि form भरने के लिए आपको किसी राज्य PCS का स्थायी निवासी होने की जरूरत नहीं है. यानी आप किसी भी राज्य से form भर सकते हैं. अगर आप पंजाब से हैं. तो आप बिहार PSC form भर सकते हैं. यहां बिल्कुल भी भ्रमित न हों.

आयु सीमा

दोस्तों अगर आप उत्तर प्रदेश यानि UPPSC का फॉर्म भरते हैं. तो न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष और अधिकतम सीमा 40 वर्ष है. यह आयु सीमा सभी के लिए है. इससे कम उम्र के छात्र UPPSC का form नहीं भर सकते हैं. आयु सीमा में छूट निवासी के लिए है. आप जिस राज्य का form भरते हैं, उस राज्य के लोगों को ही छूट मिलती है.

General21~40 वर्ष
OBC21~45 वर्ष
SC/ST21~45 वर्ष
PWD21~55 वर्ष

Form भरने के लिए कितना प्रतिशत चाहिए

दोस्तों अगर UPPSC की बात करें तो form apply करने के लिए आपका graduation pass होना जरूरी है. यानी अगर आप न्यूनतम अंकों से graduate हैं तो भी आप form apply कर सकते हैं.

BDO अधिकारी परीक्षा चरण

दोस्तों इस परीक्षा के तीन चरण होते हैं:

  1. Prelims exam
  2. Mains
  3. Interview

ध्यान रहे कि परीक्षा के तीनों चरणों को पास करने के बाद ही आप BDO के लिए चयनित हो पाएंगे. कई छात्रों को भ्रम होता है कि prelims और mains pass करने के बाद BDO बन सकता है. तो ये बिल्कुल गलत है. Interview भी clear करना होगा. यदि आप interview में चयनित नहीं हो पाते हैं, तो आपको फिर से परीक्षा देनी होगी.

BDO Officer का syllabus क्या होता है?

दोस्तों किसी भी परीक्षा को crack करने के लिए syllabus का ज्ञान होना जरूरी है. सभी छात्रों को syllabus पता होना चाहिए. जैसा कि आप जानते हैं, परीक्षा के तीन चरण होते हैं:

Prelims का syllabus

सबसे पहले, हम prelims के syllabus के बारे में जानते हैं, इसमें  MCQ होते हैं. इसमें दो paper होते हैं:

General Studies(1) और General Studies (2)

General Studies (1) में 200 अंकों के 150 प्रश्न हैं. General Studies (2) में 200 अंकों के 100 प्रश्न होते हैं. दोनों पेपर की परीक्षा का समय 2 घंटे है. पेपर 1 में current affairs और Indian history, Indian & World Geography, Economics, Indian Polity और Governance, General Science, Economic और Social Development के साथ प्रश्न पूछे जाते हैं.

अब जानिए पेपर 2 के बारे में, यह सिर्फ qualifying paper है. इसकी संख्या आपकी योग्यता में नहीं जोड़ी जाती है. लेकिन आपको 33 फीसदी अंक लाने होंगे. तभी आप मुख्य परीक्षा में बैठ सकते हैं. पेपर 2 मेंmathematics, reasoning, English और Hindi के प्रश्न हैं. दोस्तों इसमें 10th level के प्रश्न होते हैं. जब आप पिछले साल का पेपर देखेंगे तो आपका confusion काफी हद तक कम हो जाएगा. मैं आपको एक बात बता दूं, जब आप prelims परीक्षा में गलत उत्तर देते हैं, तो minus marking होती है. यानी गलत जवाब देने पर 1/3 अंक काटे जाते हैं. यह prelims exam का syllabus था.

Mains का syllabus

मुख्य राज्य PCS के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. इसमें जो अंक आएंगे, वही आपके final selection के लिए merit बनाएंगे. इसमें 8 paper होते हैं और सभी paper को 3-3 घंटे का समय दिया जाता है. 8 paper इस प्रकार हैं.

सामान्य हिंदी, , , वैकल्पिक पेपर 1
निबंध
सामान्य अध्ययन 1
सामान्य अध्ययन 1
सामान्य अध्ययन 1
सामान्य अध्ययन 1
वैकल्पिक पेपर 1
वैकल्पिक पेपर 1

8 Mains Question paper

Hindi से 50 प्रश्न पूछे जाते हैं. जिसमें word knowledge और usage, prefix और suffix का usage, telegram writing, spellingऔर sentence purification आदि शामिल हैं.

निबंध लेखन में तीन खंड होते हैं, आपको तीनों खंडों में 3–3 विषय दिए जाएंगे. आपको तीन विषयों में से एक विषय का चयन करना है और उसे 700 शब्दों में लिखना है. निबंध लेखन के लिए आपको पूरे तीन घंटे मिलते हैं.

सामान्य अध्ययन में कुल 4 पेपर होते हैं. सभी 200 अंक के हैं. सामान्य अध्ययन में भारतीय इतिहास, अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल, आपदा, current affairs आदि से 1,2,3 प्रश्न पूछे जाते हैं. जबकि सामान्य अध्ययन में 4 प्रश्न नैतिकता से आते हैं.

Optional paper में 29 विषय होते हैं. जिसमें आपको एक ही subject का चुनाव करना होता है और उसी subject के paper देने होते हैं. Optional paper इस प्रकार हैं.

Agriculture
Botany
Mechanical Engineering
Zoology
Law
Electrical Engineering
Chemistry
Animal Husbandry
English Literature
Physics & Veterinary
Urdu Literature
Mathematics
Statistics
Hindi Literature
Geography
Management
Sanskrit Literature
Economics
Political Science
Commerce
Sociology
International Relations
Accountancy
Philosophy
History
Public Administration
Geology
Anthropology
Medical Science
Psychology
Civil Engineering

Interview Syllabus

जब आप prelims और mains qualify करते हैं. फिर आपको interview के लिए बुलाया जाता है. interview 200 अंकों का होता है, जिसमें कई तरह के सवाल पूछे जाते हैं. जैसे आप जिस जिले से हैं, उसके बारे में कुछ भी पूछा जा सकता है. विषय से भी प्रश्न पूछे जा सकते हैं. इसमें विशेष रूप से interviewer को यह विश्वास दिलाना होता है कि आप इस पद के लिए सही व्यक्ति हैं.

FAQs

आप BDO Officer का form कब भर सकते हैं?

BDO Officer बनने के लिए आप जो form apply करेंगे. सभी राज्यों में BDO अधिकारी के लिए अलग-अलग तिथियां हैं यानी सभी राज्यों की अपनी-अपनी अधिसूचनाएं हैं. और यह अलग-अलग तिथियों पर होता है. इसके लिए आपको आधिकारिक website पर जाना होगा.

BDO Officer को कितनी salary मिलती है?

एक BDO अधिकारी का वेतन अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग होता है. हालांकि अगर औसत वेतन की बात करें तो प्रवेश स्तर पर BDO का मासिक वेतन grade pay के रूप में हर महीने 4,800/- रुपये के साथ सातवें वेतनमान के आधार पर 9300-34,800 रुपये है. जैसे-जैसे आपकी सेवा की अवधि बढ़ेगी, वैसे-वैसे आपका मासिक वेतन भी बढ़ेगा. इसके अलावा कई सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं.

आपको क्या रणनीति अपनानी चाहिए?

दोस्तों अगर आपने तय कर लिया है कि आप BDO बनना चाहते हैं तो आपको अभी से state PCS syllabus पर पूरा ध्यान देना चाहिए. साथ ही सामान्य अध्ययन का syllabus तैयार करने के लिए हर विषय के concept को जानना बेहद जरूरी है. इस परीक्षा के सामान्य अध्ययन का पूरा pattern  सिविल सेवा परीक्षा के समान है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *